Connect with us

कोरोना

Corona: ब्रिटेन में कहर बरपा रहा है कोरोना का नया स्वरूप, विशेषज्ञों ने इस वजह से जताई चिंता

ब्रिटेन में मिले नए सबवैरिएंट को A.Y.4.2 नाम दिया गया है

Published

on

Representative Image [Instagram]
Representative Image [Instagram]

ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्वरूप सामने आया है। ब्रिटेन में कोरोना के बढ़ते मामलो के बीच वैज्ञानिकों ने वायरस के डेल्टा वैरिएंट के विकसित स्वरूप को ढूंढ निकाला है। एक लीडिंग डेली की रिपोर्ट के अनुसार इस नए सबवैरिएंट को A.Y.4.2 नाम दिया गया है। इस वैरिएंट में स्पाइक प्रोटीन के दो म्यूटेशन (A222V and Y145H) पाए गए हैं।

 

रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन में अब तक जितने केसों की जीनोम सीक्ववेंसिंग की गई है, उनमें से करीब 10 फीसदी कोरोना वायरस के नए स्वरूप के मामले थे। वहां के स्वास्थ्य मामलों से जुड़ी संस्था के अनुसार डेल्टा वैरिएंट के इस नए स्वरूप की निगरानी की जा रही है। संस्था ने बताया कि कोई भी कोरोना वायरस इन्हीं स्पाइक प्रोटीन के माध्यम से हमारी कोशिकाओं में पहुंचता है।

Photo from Unplash

Photo from Unplash

ब्रिटेन में नए वैरिएंट के मिलने के बाद अमेरिका और रूस भी अपने यहां नए केसों की जीनोम सीक्वेंसिंग करा रहे हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि जांच शुरू होते ही इन दोनों ही देशों में डेल्टा के नए सबवैरिएंट के कुछ मामले पाए गए हैं। ब्रिटेन में जीनोमिक्स के दो विशेषज्ञों ने बताया कि A.Y.4.2 डेल्टा स्ट्रेन के मुकाबले 10 से 15 फीसदी तक ज्यादा संक्रामक है।

 

विशेषज्ञों के अनुसार अगर कोरोना के इस वैरिएंट को मिली शुरुआती जानकारी को सही माना जाए तो यह सबसे खतरनाक स्ट्रेन साबित हो सकता है। अगर A.Y.4.2 के और ज्यादा केस मिलते हैं तो यह वैरिएंट अंडर इन्वेस्टिगेशनबन जाएगा और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) इसे नई पहचान देगा। बता दें कि ब्रिटेन में 40 हजार से अधिकं नए मामले देखे जा रहे हैं। जबकि ब्रिटेन की लगभग 70 फीसदी आबादी को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *