Connect with us

एशिया

पूर्वी लद्दाख क्षेत्र के पास चीन की गतिविधियों पर सेना प्रमुख ने जताई चिंता, कहा- ‘भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार’

सेना प्रमुख ने कहा है कि भारतीय सेना चीन की हरकतों का करारा जवाब देने के लिए तैयार है

Published

on

M M Naravane
Picture of Army Chief M M Naravane [Twitter]

भारत और चीन के बीच पिछले एक साल से भी अधिक समय से पूर्वी लद्दाख पर तनातनी चल रही है। अब वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) की स्थिति को लेकर भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने अहम बयान दिया है। उन्होंने चीन द्वारा पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में फौज की तैनाती और बुनियादी ढांचे के विकास को लेकर चिंता जताते हुए यह भी कहा है कि भारतीय सेना चीन की हरकतों का करारा जवाब देने के लिए तैयार है।

 

एक लीडिंग डेली की रिपोर्ट के अनुसार एमएम नरवणे ने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में चीन के बुनियादी ढांचे के विकास को लेकर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में चीन जिस तरह से अपनी सेना की तैनाती बढ़ा रहा है वह एक चिंता का विषय जरूर है लेकिन हमारी सेना भी चीन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

Representative Image [Instagram]

Representative Image [Instagram]


एमएम नरवणे ने आगे कहा कि अगर चीनी सेना सर्दियों के दौरान भी तैनाती बनाए रखती है, तो यहां LOC जैसी स्थिति (नियंत्रण रेखा) हो सकती है, हालांकि यह सक्रिय LOC जैसी नहीं होगी जैसा कि पाकिस्तान के साथ पश्चिमी मोर्चे पर है। उन्होंने आगे बताया कि अगर चीनी सेना अपनी तैनाती जारी रखती है, तो भारतीय सेना भी अपनी तरफ से अपनी उपस्थिति बनाए रखेगी।

 

सेना प्रमुख ने आगे कहा कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के साथ कई क्षेत्रों में भारतीय और चीनी सेनाएं लगभग 17 महीनों से गतिरोध पर हैं, हालांकि दोनों पक्ष इस साल बातचीत के बात कई जगहों से अलग भी हो गए। बता दें कि इस साल दोनों देशो के बीच लंबी बातचीत के बाद पैंगोंग लेक से चीनी और भारतीय सैनिकों की वापसी हुई।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *