Connect with us

दुनिया

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बाइडन प्रशासन पर साधा निशाना, कहा- ‘कभी नहीं हुई जंग के मैदान से इतने बुरे हाल में सैन्य वापसी’

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत रहीं निक्की हेली ने भी इसे शर्मनाक करार दिया है

Published

on

Donald Trump
Photo of Donald Trump and Joe Biden[Instagram]

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी को लेकर पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति जो बाइडन पर फिर से निशाना साधते हुए बाइडन प्रशासन की आलोचना की है। एक लीडिंग की रिपोर्ट के अनुसार डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि इतिहास गवाह है कि अमेरिकी फौज की वापसी जंग के मैदान से इतने बुरे हालात में पहले कभी नहीं हुई।

 

रिपोर्ट के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अफगानिस्तान में रह गए अमेरिका के हथियार और उपकरणों को वापस लेने की मांग की जानी चाहिए। क्योंकि इन उपकरणों पर अरबों डालर हर अमेरिकी के पैसे से खर्च हुआ है। अगर ये उपकरण और हथियार वापस नहीं लौटाए जाते हैं, तो अमेरिका को सैन्य बल का इस्तेमाल करना चाहिए या फिर इन्हे बम से उड़ा देना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि ‘जिस तरह की सैन्य वापसी हुई, ऐसी मूर्खता के बारे में किसी ने भी नहीं सोचा था’।

Donald Trump

Photo of Donald Trump[Instagram]

अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने भी कहा कि बाइडन प्रशासन द्वारा इसके लिए कोई ठोस योजना नहीं बनाई गई। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत रहीं निक्की हेली ने भी इसे शर्मनाक करार देते हुए कहा कि बाइडन प्रशासन ने अमेरिकी नागरिकों और अफगान सहयोगियों को ऐसी जगह छोड़ दिया, जहां आतंकवादियों का राज है। इनके साथ कुछ भी होता है, तो इसके लिए सीधे तौर पर जो बाइडन ही जिम्मेदार होंगे।

 

बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने इससे पहले जो बाइडन की आलोचना करते हुए अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे को अमेरिकी इतिहास की सबसे बड़ी हार करार दिया था। पूर्व राष्ट्रपति ने अपने एक संक्षिप्त बयान में कहा था कि यह अमेरिका के इतिहास की सबसे बड़ी हार है। अफगानिस्तान के साथ जो बाइडन ने जो किया है वह ऐतिहासिक है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *