Connect with us

दुनिया

‘क्‍वाड’ बैठक में पीएम मोदी और जो बाइडन का होगा आमना-सामना, जानें क्यों अहम होगी यह बातचीत

Published

on

[Twitter]
Photo of Narendra Modi and Joe Biden[Twitter]

अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने जबसे यूनाइटेड स्टेट्स की कमान संभाली है। तबसे सभी यह जानने को उत्सुक रहते हैं कि आने वाले समय अमेरिकी प्रशासन का भारत के प्रति रवैया कैसा रहेगा। हालांकि अबतक मिले संकेत सकरात्मक ही साबित हुए हैं। अब आगामी शुक्रवार को पहली बार भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्‍ट्रपति जो बाइडन ‘क्‍वाड’ की वर्चुअल बैठक में एक-दूसरे के सामने बैठकर बातचीत करेंगे।

 

‘क्‍वाड’ की वर्चुअल मीटिंग में ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापान के पीएम योशिहिदे सुगा भी भाग लेंगे। इन नेताओं के बीच पिछले साल से चली आ रही कोरोना महामारी का कारण सामने आई समस्याओं और उनके निवारण पर बातचीत होगी। साथ ही जलवायु परिवर्तन को लेकर अहम रूप से विचार विमर्श किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस मीटिंग में हिंद-प्रशांत महासागर क्षेत्र को आवाजाही को मुक्‍त करने पर चर्चा होगी। क्‍वाड की इस मीटिंग में जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा भी बाइडन के साथ पहली बार बातचीत करेंगे।

[Twitter]

Photo of Narendra Modi and Joe Biden[Twitter]

इस बैठक को लेकर व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेन साकी ने भी कहा है कि बाइडेन इसे बेहद अहम मानते है और अमेरिकी राष्‍ट्रपति का कहना है कि यह बैठक हिंद और प्रशांत में निकट सहयोग की अहमियत को भी दर्शाता है। बताते चले कि ‘क्‍वाड’ को चीन ने कई बार अपने लिए चुनौती बताया है। चीन को लेकर बाइडन ने भी ट्रंप की तरह ही सख्ती बरतने के संकेत पहले ही दिए हैं। ऐसे में चीन के नापाक मंसूबो को चुनौती देने के लिए ‘क्‍वाड’ बेहद अहम साबित हो सकता है।

 

‘क्‍वाड’ की यह मीटिंग भारत-अमेरिकी संबंधो के लिए बेहद महत्वपूर्ण होगी। खासतौर से जब अमेरिका में नए प्रशासन ने बागडोर संभाली है। दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग के विस्तार पर भी चर्चा हो सकती है और दोनों देशों के बीच चीन की हरकतों को रोकने के लिए होने वाली बातचीत सबसे महत्वपूर्ण साबित हो सकती है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *