Connect with us

दुनिया

डोनाल्ड ट्रंप को बैन करके पछताए ट्विटर सीईओ जैक डोर्सी, मजबूरियां गिनाते हुए बोले- क्या ये सही था?

Published

on

Donald Trump
Photo of Donald Trump[Instagram]

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को हाल ही में माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर द्वारा बैन कर दिया गया था। अब ट्विटर के संस्थापक और सीईओ जैक डोर्सी ने अपने ट्विटर हैंडल पर कई ट्वीट करके अपने इस फैसले पर पछतावा जाहिर किया है। साथ ही उन्होंने ट्रंप के अकाउंट को बैन करने के पीछे अपनी मजबूरियां गिनाई हैं।

 

जैक डोर्सी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मैं ट्विटर पर डोनाल्ड ट्रंप को प्रतिबंधित करके जश्न नहीं मना रहा हूं। हम यहां कैसे पहुंचे, इस बारे में हम गर्व महसूस नहीं करते हैं। हमने यह कार्रवाई स्पष्ट चेतावनी दिए जाने के बाद की है। यह फैसला हमने ट्विटर पर भौतिक सुरक्षा से जुड़े खतरों के आधार पर पूरी तरह से उचित जानकारी के साथ लिया है। क्या यह सही था?

जैक डोर्सी ने सफाई देते हुए लिखा, ‘हमारे सामने असामान्य और बेहद कठिन परिस्थितियां थीं। जिसके चलते हमें अपना फोकस लोगों की सुरक्षा पर केंद्रित करना पड़ा’। जैक डोर्सी ने आगे कहा कि इस बैन को लगाने में उन्हें कोई खुशी या गर्व महसूस नहीं हुआ। ऑनलाइन दिया गया भाषण का परिणाम ऑफलाइन प्रदर्शनों के नुकसान के रूप में वास्तविक है।

जैक ने आगे लिखा कि ‘एक अकाउंट पर प्रतिबंध लगाने से काफी वास्तविक और महत्वपूर्ण प्रभाव भी पड़ता है। हालांकि मुझे लगता है कि ऐसे प्रतिबंध अभिव्यक्ति की स्वत्रंता में बाधक है। यह ट्विटर के लिए एक विफलता है कि हम स्वस्थ बातचीत का संचालन नहीं कर सके’। जैक ने अपने सभी ट्वीट्स से यह संकेत देने की कोशिश की है कि ट्विटर लोगों के निजी विचारों को स्वत्रंता के साथ रखने में बाधक नहीं है।

Donald Trump

Photo of Donald Trump from Unplash

बताते चले कि ट्रंप के सोशल अकाउंट्स बैन पर जर्मन चांसलर मर्केल ने भी आपत्ति जताई थी। उनके प्रवक्ता स्टीफन सीबर्ट ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि चांसलर के अनुसार विचारों की अभिव्यक्ति की आजादी का मूल अधिकार है। जिसके चलते राष्ट्रपति ट्रंप के अकाउंट को स्थायी रूप से रद्द करना ठीक नहीं है। हालांकि चांसलर मर्केल ट्रंप की गलत पोस्ट के लिए उन्हें चेताए जाने के फैसले से सहमत है। चांसलर मर्केल के अलावा मेक्सिको के राष्ट्रपति ने भी इस कार्रवाई को अनुचित ठहराया था।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *