Connect with us

बिजनेस

पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर बोले नितिन गडकरी- ‘आम आदमी की पहुंच से हो रहीं बाहर’, बताया कैसे देंगे जनता को राहत

नितिन गडकरी ने बताया कि इस नीति से लोगों को पेट्रोल-डीजल की जगह एथेनॉल के इस्तेमाल का विकल्प मिलेगा

Published

on

Nitin Gadkari
Photo shared by Nitin Gadkari[Twitter]

देश में पिछले कई महीनो से पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों से आम जनता परेशान चल रही है। अब केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बताया है कि जनता को राहत देने के लिए सरकार नीति बना रही है। एक लीडिंग डेली की रिपोर्ट के अनुसार नितिन गडकरी ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें आम आदमी की पहुंच से बाहर हो रही है इसलिए सरकार जनता को राहत देने के लिए फ्लैक्सी इंजन लगे वाहन निर्माण की नीति बना रही है।

 

नितिन गडकरी ने कहा कि इस नीति से लोगों को पेट्रोल-डीजल की जगह एथेनॉल के इस्तेमाल का विकल्प मिलेगा। उन्होंने कहा कि वह जल्दी ही वाहन निमार्ताओं को लिए एक नीति बना रहे हैं जिसके तहत सभी वाहनों पर फ्लैक्सी इंजन लगाना जरूरी कर दिया जाएगा। इसके तहत वाहन मालिक अपने वाहन में पेट्रोल और डीजल की जगह एथेनॉल का इस्तेमाल कर सकता है।

Photo from Unplash

Photo from Unplash

नितिन गडकरी ने बताया कि एथेनॉल का उत्पादन बड़ी मात्रा में करने की रणनीति पर भी काम चल रहा है। एथेनॉल गन्ना भूसा,धान आदि से तैयार किया जाता है। किसान अच्छी पैदावार कर रहा है और उसकी मेहनत का पयार्प्त लाभ उसे मिले इसमें स्वच्छ ईंधन एथेनॉल महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। उन्होंने आगे कहा कि देश में 12 लाख करोड़ रुपये का डीजल और पेट्रोल आयात किया जाता है। एथेनॉल के प्रयोग से पेट्रोल-डीजल के आयात को कम करके अगर चार-पांच लाख करोड़ रुपए बचते हैं तो उसका फायदा किसानों को मिलेगा।

 

नितिन गडकरी इससे पहले भी एथेनॉल कर अन्य वैकल्पिक ईंधन के इस्तेमाल को बढ़ावा देने की बात कह चुके हैं। रिपोर्ट के मुताबिक भारत अपना एथेनॉल उत्पादन भी लगातार बढ़ा रहा है। पेट्रोल में 20 फीसदी एथेनॉल मिलाने की समयसीमा को भी सरकार ने हाल ही में 2030 से घटाकर 2025 कर दिया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *