Connect with us

दुनिया

अफगानिस्तान के मुद्दे पर बोले विदेश मंत्री- ‘बारीकी से रख रहे हैं नजर’, बताया क्‍या है भारत की प्राथमिकता

एस जयशंकर ने कहा कि फिलहाल हम काबुल में तेजी से बदलते हालात पर नजर बनाए हुए हैं

Published

on

Picture from [Twitter]
Picture shared by ANI [Twitter]

अफगानिस्‍तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से विश्वभर के देशों की नजर वहां की स्थिति पर बनी हुई यही। भारत भी अफगानिस्‍तान को गहन चिंतन में हैं और हर पहलू पर विचार-विमर्श कर रहा है। देश के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि भारत अफगानिस्तान के घटनाक्रमों पर बारीकी से नजर रखे हुए हैं।

 

विदेश मंत्री ने बताया कि हमारा ध्यान अफगानिस्तान में सुरक्षा और भारतीयों की सुरक्षित वतन वापसी सुनिश्चित करने पर है, जो युद्धग्रस्त देश में फंसे हैं। एस जयशंकर ने बुधवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक के बाद प्रेसवार्ता में कहा कि फिलहाल हम काबुल में तेजी से बदलते हालात पर नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने आगे कहा कि अफगानिस्तान में जो स्थिति है, उस पर संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव और यूएस सचिव और वहां उपस्थित अन्य सहयोगियों के साथ भी बातचीत हुई है।

विदेश मंत्री ने भारत के अफगानिस्तान में निवेश और भारत द्वारा जो अनुबंध किए गए हैं उन पर काम जारी रखने के सवाल पर कहा कि अफगान लोगों  के साथ भारत के ऐतिहासिक संबंध है और उन्हें जारी रखेंगे। फिलहाल हमारा ध्यान अफगानिस्‍तान में रह रहे भारतीयों की सुरक्षा और उनकी सुरक्षित निकासी पर है। उन्होंने आगे कहा कि वहां पर संयुक्त राष्ट्र शांति स्थापना मिशन के काम में भी परेशानी आ रही है।

 

बता दें कि तालिबान की ओर से विश्‍व समुदाय के साथ चलने की बात कही गई है। तालिबान ने कहा है कि वह विश्वभर के देशों के साथ बातचीत करना चाहता है। हालांकि भारत यह पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि उन्‍हें तालिबान की कथनी और करनी पर कोई भरोसा नहीं है। अफगानिस्‍तान की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में दो बार सीसीएस की बैठक भी हुई थी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *