Connect with us

कोरोना

भारत बायोटेक ने दी कोरोना की नेजल वैक्सीन को लेकर जानकारी, दूसरे चरण का ट्रायल लगभग हुआ पूरा, पढ़ें खबर

भारत बायोटेक ने बताया है कि बच्चों की कोरोना वैक्सीन को लेकर DCGI से इजाजत का इंतजार है

Published

on

Bharat Biotech
Photo shared by Bharat Biotech[Twitter]

भारत बायोटेक ने अपनी कोरोनारोधी नेजल वैक्सीन यानी कि नाक से दिए जाने वाले टीके को लेकर जानकारी दी है। कंपनी ने कहा है कि इस वैक्सीन के दूसरे चरण का ट्रायल लगभग पूरा हो गया है। जिसने अच्छे परिणाम दिखाए हैं। भारत बायोटेक के मुताबिक यह नेजल वैक्सीन कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकेने में मदद करेगा।

 

भारत बायोटेक के निदेशक और चेयरमैन डा कृष्णा ईला ने इसकी जानकारी देते हुए यह भी बताया है कि बच्चों की कोरोना वैक्सीन को लेकर भारतीय औषधि महानियंत्रक (DCGI) से इजाजत का इंतजार है। उन्होंने देश के टीकाकरण अभियान का आंकड़ा 100 करोड़ डोज पार करने पर कहा कि भारत सरकार से लेकर नागरिकों तक के सामूहिक प्रयासों से 100 करोड़ टीकाकरण का आंकड़ा हासिल करने में एक अद्भुत काम किया है।

Bharat Biotech

Photo shared by Bharat Biotech[Twitter]


बता दें कि भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को दो साल से बड़े सभी बच्चों के कोरोना वैक्सीनेशन के लिए सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) द्वारा इसे मंजूरी देने की सिफारिश की गई है। भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन का बच्चों के टीकाकरण के लिए पहले ट्रायल किया गया था। भारत बॉयोटेक ने कोवैक्सीन का 18 से कम उम्र के बच्चों पर तीन चरणों में ट्रायल पूरा किया था। इस वैक्सीन के दूसरे व तीसरे चरण का ट्रायल सितंबर महीने में पूरा कर लिया गया था।

 

इससे DCGI से पहले जायडस कैडिला की वैक्सीन ZyCoV-D को 12-18 वर्ष के किशोरों के टीकाकरण के लिए अनुमति मिल चुकी है। ZyCoV-D को सिरिंज या सुई के माध्यम से नहीं दिया जाएगा। बल्कि एक ऐप्लिकेटर के माध्यम से दिया जाएगा। जिसका उपयोग देश में पहली बार किया जाएगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *