Connect with us

कोरोना

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने जारी किए पोस्ट-कोविड लक्षणों के इलाज के लिए दिशा-निर्देश, उपयुक्त उपचार देने में मिलेगी मदद

मनसुख मांडविया ने कहा कि पोस्ट-कोविड मुद्दों को समझना और उनका समाधान करना महत्वपूर्ण है

Published

on

Mansukh Mandaviya
Picture shared by Mansukh Mandaviya [Twitter]

भारत सरकार ने आज पोस्ट-कोविड लक्षणों को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने सोशल मीडिया पर इन दिशा निर्देशों की जानकारी साझा की है । स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इन दिशा निर्देशों से पोस्ट-कोविड स्वास्थ्य समस्याओं के लिए तैयारी करने और मरीजों को उचित इलाज उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी।

 

मनसुख मांडविया ने अपने ट्वीट लिखा, ‘लंबी अवधि के स्वास्थ्य मुद्दों पर मार्गदर्शन देने के लिए पोस्ट-कोविड प्रबंधन पर राष्ट्रीय व्यापक दिशानिर्देश जारी किए। इससे स्वास्थ्य कर्मियों को पोस्ट-कोविड स्वास्थ्य जटिलताओं के लिए अग्रिम रूप से तैयार करने और रोगियों को उपयुक्त उपचार देने में मदद मिलेगी’। स्वास्थ्य मंत्री ने आगे लिखा कि यह भारत में जारी 7 मॉड्यूल की पहली ऐसी श्रृंखला है, जो चिकित्सा बिरादरी के लिए व्यापक दिशानिर्देश प्रदान करती है। इसमें स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए मानसिक स्वास्थ्य से निपटने के लिए एक मॉड्यूल शामिल है, जो बेहद महत्वपूर्ण है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार मनसुख मांडविया ने गाइडलाइंस जारी होने पर करते हुए कहा कि अगर हम पहले से सतर्क हैं, तो यह कोरोना के भविष्य के परिणामों से निपटने में उपयोगी होगा। पोस्ट-कोविड से संबंधित धारणाएं जो हमारे समाज में व्याप्त हैं जैसे डर, मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे जो कि सीओवीआईडी ​​​​के कारण उत्पन्न होते हैं, से निपटना जरूरी है। इसलिए इन पोस्ट-कोविड मुद्दों को समझना और उनका समाधान करना महत्वपूर्ण है।

 

बता दें कि कोरोना संक्रमण ठीक होने के बाद भी यह लोगों का पीछा नहीं छोड़ रहा है। कई कोरोना संक्रमितों में ठीक होने के कुछ हफ्तों या महीनों बाद तक लक्षण बने रहते हैं। जैसे कि सांस लेने में दिक्कत और थकान होना। इसे पोस्ट-कोविड लक्षण कहा जाता है। यह उन मरीजों में खासतौर से देखने को मिल रहे हैं जिन्हें कोरोना होने के बाद हॉस्पिटल में भर्ती होना पड़ा हो। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार केरल में बच्चे पोस्ट-कोविड लक्षणों से जूझ रहे हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *