Connect with us

कोरोना

Corona: स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने दी जानकारी- अक्टूबर महीने में मिलेंगी 30 करोड़ वैक्सीन, वैक्सीन के निर्यात पर कही यह बात

मनसुख मंडाविया ने बताया कि देश में अब तक कोरोना वैक्सीन के 81 करोड़ डोज लग चुके हैं

Published

on

Picture shared by @PIB_India
Picture shared by @PIB_India[Twitter]

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने जानकारी दी है कि सरकार को अक्टूबर महीने में 30 करोड़ कोरोना वैक्सीन मिलने की संभावना है और अगले तीन महीने में 100 करोड़ से अधिक वैक्सीन मिलेंगी। स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा है कि वैक्सीन मैत्री के तहत वैक्सीन का निर्यात अक्टूबर-दिसंबर में हमारी अपनी जरूरतों के पूरे होने के बाद ही होगा।

 

मनसुख मंडाविया ने कहा कि हम चौथे क्वार्टर में वैक्सीन मैत्री कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए वैक्सीन मैत्री के तहत दुनिया की मदद भी करेंगे। हमारे अपने देश के नागरिकों का वैक्सीनेशन सबसे ज्यादा जरूरी है। खुद की जरूरतें पूरी करने के बाद कोवैक्‍स (COVAX) में योगदान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ‘वैक्सीन मैत्री’ के लिए अक्टूबर-दिसंबर में सरप्लस टीकों का निर्यात किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि कोरोना वैक्सीन की अधिशेष आपूर्ति का उपयोग कोरोना संक्रमण के खिलाफ सामूहिक लड़ाई के लिए दुनिया के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए किया जाएगा। COVAX का सह-नेतृत्व गेवी, कोवलेशन फॉर एपिडेमिक प्रिपेयर्डनेस इनोवेशन (CEPI) और (WHO) कर रहे हैं।

 

मनसुख मंडाविया ने कोरोना वैक्सीन के स्वदेशी अनुसंधान और उत्पादन के महत्व पर बात करते हुए कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अथक प्रयासों और मार्गदर्शन के कारण है कि भारत एक साथ इतने बड़े पैमाने पर कोरोना वैक्सीन का अनुसंधान और उत्पादन कर रहा है। भारत का वैक्सीनेशन प्रोग्राम दुनिया के लिए एक आदर्श रहा है। उन्होंने बताया कि देश में अब तक कोरोना वैक्सीन के 81 करोड़ डोज लग चुके हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *