Connect with us

कोरोना

कोरोना प्रोटोकॉल के पालन में लापरवाही पर सरकार सख्त, पर्यटन स्थलों पर पहुंचने वाले सैलानियों के लिए जारी हुए नए दिशा-निर्देश

उत्तराखंड में दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को आरटीपीसीआर रिपोर्ट के नेगेटिव दिखाने पर ही प्रवेश दिया जा रहा है

Published

on

Photo from Unplash
Photo from Unplash

देश के विभिन्न राज्यों से कोरोना नियमों के पालन में हुई लापरवाही कि खबरों पर केंद्र सरकार ने सख्त रूख अपनाया है। जिसका प्रभाव भी नजर आने लगा है। एक लीडिंग डेली की रिपोर्ट के अनुसार हिमाचल प्रदेश, गोवा, महाराष्ट्र उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में पहुंच रहे सैलानियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

 

रिपोर्ट के मुताबिक हिमाचल प्रदेश से होते हुए लद्दाख जाने वाले लोगों के लिए भी नियम अब और सख्त होंगे। अटल टनल से जो लोग लद्दाख में प्रवेश करते हैं उनकी संख्या को सीमित करने पर विचार-विमर्श हो रहा है। हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि अगर पर्यटकों की भीड़ संयमित नहीं हुई, तो कई शहरों में बाजारों के खोलने और बंद करने के समय में बदलाव किया जा सकता है। उत्तराखंड में भी ऐसी व्यवस्था अपनाई जाएगी।

Photo from Unplash

Photo from Unplash

उत्तराखंड के स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि उत्तराखंड में दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को आरटीपीसीआर रिपोर्ट के नेगेटिव दिखाने पर ही प्रवेश दिया जा रहा है और जिन लोगों की यह रिपोर्ट नेगेटिव नहीं होती है या इसकी रिपोर्ट ही नहीं होती है तो उनका एंटीजन टेस्ट करके ही प्रवेश दिया जा रहा है। महाराष्ट्र प्रशासन ने भी बाहर से आने वाले लोगों की डिटेल के साथ उनकी कोरोना निगेटिव रिपोर्ट जांचने को कहा है। साथ ही महाराष्ट्र बॉर्डर से लगते हुए जिलों में लोगों की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट प्रवेश पर ही जांचने को कहा है।
 

कोरोना मामलों पर नजर रखने के लिए गठित की गई टास्क फोर्स कमेटी के सदस्य डॉक्टर एनके अरोड़ा ने कहा है कि लोग अगर लोग घूमना ही चाहते हैं तो कोरोना वैक्सीनेशन करवाने के बाद और संक्रमण से सुरक्षित रहने के सभी आवश्यक नियमों को फॉलो करते हुए कहीं भी जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को भी इस बात पर ध्यान देना होगा कि अगर सभी लोग सड़कों पर उतरेंगे तो भीड़ अधिक हो जाएगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *