Connect with us

कोरोना

Corona: वैक्सीन के डोज शेड्यूल में कोई बदलाव नहीं, जुलाई-अगस्त से प्रतिदिन 1 करोड़ लोगों का होगा वैक्सीनेशन

देश में कोरोना की स्थिति और वैक्सीनेशन प्रोग्राम को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जरूरी जानकारी दी है

Published

on

Picture shared by ANI
Picture shared by ANI [Twitter]

देश में कोरोना की दूसरी लहर की स्थिति और वैक्सीनेशन प्रोग्राम को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेंस कर जरूरी जानकारी दी है। ICMR के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने बताया है कि कोरोना वैक्सीन ‘कोविशील्ड’ की डोज लगाने के शेड्यूल में कोई बदलाव नहीं किया गया है। यह केवल दो डोज होगी और पहली डोज देने के बाद 12 हफ्ते के बाद दूसरी डोज दी जाएगी।

 

डॉ. बलराम भार्गव ने कहा कि देश में वैक्सीन की कमी नहीं है। मध्य जुलाई या अगस्त तक हमारे पास प्रतिदिन 1 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए पर्याप्त डोज होगी। उन्होंने आगे कहा कि इस साल दिसंबर तक देश की पूरी आबादी को वैक्सीन लगा लेने का हमें पूरा भरोसा है। प्रेस कांफ्रेंस में नीति आयोग के सदस्य डा. वीके पॉल ने बताया बच्चों की बड़ी आबादी आमतौर पर स्पर्शोन्मुख है। उन्हें संक्रमण अक्सर हो जाता है। लेकिन उनमे लक्षण बेहद कम या शून्य होते हैं। डा. वीके पॉल के अनुसार बच्चों में संक्रमण ने गंभीर रूप नहीं लिया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कोरोना स्थिति के बारे में बताते हुए कहा कि देश में संक्रमण के एक्टिव मामलों में लगातार गिरावट आ रही है। देश के 34 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ऐसे हैं जहां पर पॉजिटिविटी रेट में भी लगातार कमी दर्ज हो रही है। उन्होंने आगे कहा कि 16 से 22 फरवरी के बीच देश में हर रोज 7.7 लाख टेस्ट हो रहे थे। लेकिन अब लगभग 20 लाख टेस्ट प्रतिदिन हो रहे हैं।

लव अग्रवाल ने आगे बताया कि पिछले 24 घंटे में 1,27,000 नए मामले सामने आए हैं। 28 मई 2021 के बाद से देश में कोरोना के केस 2 लाख से कम आ रहे हैं। जबकि रिकवर मामले नए मामलों की तुलना में अधिक हैं। आज एक दिन में देश में 1.3 लाख एक्टिव मामलों में भी कमी दर्ज की गई है। उन्होंने आगे बताया कि देश में अब तक कुल 21.60 करोड़ वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *