Connect with us

कोरोना

कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के प्रयासों की IMF ने की प्रशंसा, देश की वैक्सीन नीति पर कही यह बात

Published

on

Gita Gopinath
Photo of Gita Gopinath shared by IMF [Twitter]

भारत में कोरोना महामारी के खिलाफ जारी जंग की अंतराष्ट्रीय स्तर पर तारीफ हुई है। अब अंतराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की प्रमुख अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ ने भी कोरोना के रोक-थाम के लिए भारत द्वारा किए गए प्रयासों की प्रशंसा की है। गीता गोपीनाथ ने कहा कि कोरोना वैक्सीन के निर्माण और अन्य देशों में इसका वितरण करने में भारत ने अदभुत कार्य किया है।

एक लीडिंग डेली की रिपोर्ट के अनुसार एक इवेंट में गीता गोपीनाथ ने कहा कि ‘वैक्सीन नीति पर भारत ने वास्तव में ऐसा काम किया जो सभी देशों से उसकी कार्यप्रणाली को अलग साबित करता है’। उन्होंने आगे कहा कि अगर उनसे कोई ये पूछे कि दुनिया में वैक्सीन का हब कहां है तो वह निश्चित रूप से भारत का नाम लेंगी। गीता ने भारत में वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट की भी प्रशंसा की।

Photo from Unplash

Photo from Unplash

सीरम की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इस इंस्टीट्यूट के द्वारा दुनियाभर में सर्वाधिक वैक्सीन बनाई जाती है। साथ ही कोरोना वैक्सीन के प्रोडक्शन में भी यह सबसे आगे है। जिसके चलते दुनियाभर के कई देशों में वैक्सीन का समय पर पहुंचाई जा सकी है। उन्होंने भारत द्वारा अपने पड़ोसी देशों को मुफ्त में वैक्सीन देने के कदम की सराहना करते हुए कहा कि भारत ने कोरोना महामारी के खिलाफ सबसे आगे बढ़कर लड़ाई लड़ी है।

गीता गोपीनाथ ने अर्थव्यवस्था पर बात करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से देश को भारी नुकसान हुआ है। लेकिन अब आर्थिक गतिविधियां शुरू होने से परिस्थिति तेजी से बेहतर हो रही है। बताते चले की भारत सरकार दुनिया का सबसे बड़ा कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम चला रही है। जिसके तहत अबतक कुल 2.3 करोड़ लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *