Connect with us

बिजनेस

‘फिनटेक का इस्तेमाल करने में डेटा प्राइवेसी से नहीं किया जाना चाहिए समझौता’- वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

निर्मला सीतारमण ने कहा कि डेटा प्राइवेसी सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है

Published

on

Nirmala Sitharaman
Photo of Nirmala Sitharaman shared by ANI [Twitter]

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज डेटा प्राइवेसी की सुरक्षा के मुद्दे पर अहम बात कही है। उन्होंने कहा है कि डेटा प्राइवेसी सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है। उन्होंने ‘ग्लोबल फिनटेक फेस्ट 2021’ में फिनटेक इंडस्ट्री को संबोधित करते हुए कहा कि डिजिटल पेमेंट करने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है और लोगों की डेटा प्राइवेसी से किसी तरह का समझौता नहीं किया जाना चाहिए।

 

केंद्रीय वित्त मंत्रालय के अनुसार निर्मला सीतारमण ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि रिस्पॉन्सिबल डिजिटल पेमेंट के लिए संयुक्त राष्ट्र के सिद्धांत अंतिम यूजर्स के लिए विश्वास, सहमति, गोपनीयता और पसंद के सिद्धांतों के आधार पर डिजिटल भुगतान वितरित करने में सभी हितधारकों के लिए एक महत्वपूर्ण संसाधन के रूप में काम करेंगे।

वित्त मंत्री ने आगे कहा कि इस साल जनवरी से अगस्त महीने की अवधि में कुल छह लाख करोड़ रुपये का डिजिटल ट्रांजैक्शन हुआ है। साल 2020 में यह आंकड़ा चार लाख करोड़ रुपये और साल 2019 में यह दो लाख करोड़ रुपये का था। उन्होंने आगे यह भी कहा कि ग्राहकों के डेटा की सुरक्षा विश्वास बहाली के लिए सबसे अहम है।

 

बता दें कि ‘ग्लोबल फिनटेक फेस्ट 2021’ के दौरान ‘UN Principles for Responsible Digital Payments’ शीर्षक की एक रिपोर्ट को भी लॉन्च किया गया है। निर्मला सीतारमण ने वर्चुअल मोड के माध्यम से इसको लॉन्च किया है। रिपोर्ट को लॉन्च करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं बेहद प्रभावित हूं कि आज रिस्पॉन्सिबल डिजिटल पेमेंट के लिए संयुक्त राष्ट्र के सिद्धांतों को लॉन्च किया जा रहा है, यह समय की जरूरत है’।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *